Advertisements

अश्वगंधा: 7 Benefits of Ashwagandha Proved by Science

Ashwagandha आयुर्वेदा के अंतर्गत आने वाली बहुत ही ज्यादा महत्वपूर्ण जड़ीबूटियों में से एक है जिससे ashwagandha के पौधे में से निकाला जाता है,  ashwagandha को भारत में बहुत समय से इस्तेमाल किया जाता आ रहा है,  सालों से लोगों ने ashwagandha को थकावट को दूर करने के लिए ,शरीर में energy को बढ़ाने के लिए, और साथ ही एकाग्रता को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जा रहा है.

Ashwagandha का पौधा बहुत ही छोटा सा होता है और इसके फूल पीले रंग के होते हैं और यह सबसे ज्यादा दक्षिण भारत में पाया जाता है, आपको बता दें कि ashwagandha को ashwagandha के जड़ की मदद से बनाया जाता है और कहीं कहीं ashwagandha के पत्तों का भी इस्तेमाल किया जाता है,  इसे थकावट दूर करने,  एनर्जी बढ़ाने,  एकाग्रता बढ़ाने, तथा जनन क्षमता बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है.

इतने सारे फायदे होने के चलते science ने भी ashwagandha पर खूब रिसर्च की और इसके खूब सारे फायदे बताएं, आज के इस लेख में हम आपको ashwagandha के 7 ऐसे फायदों के बारे में बताएंगे जो कि proved by science है.

Ashwagandha
Ashwagandha

Ashwagandha can help in stress anxiety

Stress का मतलब होता है तनाव,  और anxieny का मतलब होता है चिंता, Ashwagandha  तनाव और चिंता से राहत दिलाने में सबसे ज्यादा प्रयोग किया जाता है और science  का भी यह कहना है कि Ashwagandha stress  और anxiety  से राहत दिलाने में काफी ज्यादा मदद करता है, 

एक छोटी सी study  की गई थी जहां पर 58  लोगों को 8  हफ्तों के लिए अश्वगंधा खिलाया गया ,  और उन लोगों में 8  हफ्तों के बाद यह पाया गया कि उनके शरीर में तनाव और चिंता  का हारमोन  जिसका नाम है cortisol  की मात्रा काफी कम हो  गई थी.

एक आम आदमी के जीवन में कई सारी चिंताएं और तनाव होते हैं यदि आपके जीवन में भी काफी चिंता और तनाव है  तो Ashwagandha  आपके लिए काफी ज्यादा कारगर साबित हो सकता है,  बाजार में कई सारे Ashwagandha  मौजूद है  आप उनमें से किसी भी Ashwagandha  का इस्तेमाल कर सकते हैं.

आपको बता दें कि अभी तक science Ashwagandha  की सही खुराक नहीं बता पाया है,  इसीलिए आप जहां से भी Ashwagandha  ले उनसे यह जरूर पूछ ले कि इसकी खुराक कितनी होनी चाहिए. 

Ashwagandha helps improve athletic performance

Science की माने तो Ashwagandha athletic performance को बेहतर करने में काफी मदद करता है इसीलिए यदि आप एक एथलीट है तो athletic आपके लिए काफी अच्छा साबित हो सकता है,  यही नहीं यदि आप एक आम आदमी भी है  फिर भी अश्वगंधा आपको दिन प्रतिदिन होने वाली भागदौड़  करने में काफी मदद करेगा.

एक meta analysis के तहत 12  पुरुषों और महिलाओं को हर दिन अश्वगंधा दिया गया और कुछ हफ्तों बाद उनमें यह पाया गया कि उनकी athletic performance  मैं काफी सुधार था,  और उनका शरीर oxygen  को बेहतर रूप से इस्तेमाल कर पा रहा था.

Ashwagandha leads to better muscle growth

Ashwagandha  शरीर के मसल्स को बढ़ाने में काफी ज्यादा मदद करता है,  एक study  की गई थी जिसमें पुरुषों को लिया गया और उनको हर दिन अश्वगंधा  दिया गया और साथ ही उन्हें weight training  करवाई गई दूसरी तरफ उन्होंने कुछ और पुरुषों को भी लिया और उन्हें भी weight training  करवाई गई,  8 हफ्तों के बाद यह पाया गया कि जिन पुरुषों ने Ashwagandha  लिया था और पुरुषों ने ज्यादा muscle gain  किया.

 तो यदि  पतले हैं या आपको gym  जाना पसंद है और आप muscle gain  करना चाहते हैं तो अश्वगंधा आपके लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है,  आप मार्केट से कोई सा भी अश्वगंधा इस्तेमाल कर सकते हैं बस ध्यान रखें कि वह अश्वगंधा  ओरिजिनल हो.

हम आपको फिर से बता देते हैं कि  अभी तक यह खुलासा नहीं हो पाया है कि अश्वगंधा की कितनी खुराक लेना आपके शरीर के लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद है इसीलिए आप जहां से भी Ashwagandha  ले उनसे अश्वगंधा के खुराक के बारे में जरूर पूछें.

Ashwagandha helps in increasing testosterone

Ashwagandha के कई सारे फायदों में से एक फायदा  यह है कि  अश्वगंधा टेस्टोस्टेरोन बढ़ाने में मदद करता है,  आपको बता दें कि टेस्टोस्टेरोन एक male hormone  है ,  और आज के थकावट और भागदौड़ भरी जिंदगी में  पुरुषों में testosterone  कम होता जा रहा है,  इसीलिए  आज के समय में अश्वगंधा को लेना और भी ज्यादा  महत्वपूर्ण हो गया है.

आपको बता दें कि पुरुषों के अंदर अश्वगंधा की मात्रा 30  वर्ष के होने के बाद कम होने लगती है,  जिसकी वजह से पुरुषों के शरीर में कई सारे नुकसान होने लगते हैं यदि आपको 30 वर्ष के बाद भी स्वस्थ और  एनर्जी से भरपूर लेना है,  तो अश्वगंधा आपके लिए काफी ज्यादा लाभकारी साबित हो सकता है.

अश्वगंधा पुरुषों में शारीरिक कमजोरियों को भी दूर रखता है जिससे कि एक पुरुष हमेशा स्वस्थ रह पाता है इसीलिए 30 वर्ष के होने के बाद अश्वगंधा को लेना ज्यादा लाभकारी साबित होता है.

अश्वगंधा may help in diabetes

जी हां आपने सही पढ़ा अश्वगंधा डायबिटीज कम करने में भी मदद कर सकता है,  एक meta analysis के अनुसार साइंटिस्ट ने यह पता लगाया कि अश्वगंधा blood sugar level  को कंट्रोल करने में काफी मददगार साबित हो सकता है,  हालांकि इस बात की ज्यादा सबूत नहीं है परंतु  आने वाले समय में और भी रिसर्च किए जाएंगे जिसके बाद यह पक्का हो जाएगा की अश्वगंधा डायबिटीज में मदद करता है कि नहीं.

परंतु अभी तक जितनी भी studies  की गई है उनमें से ज्यादातर स्टडीज में यह पाया गया है कि अश्वगंधा diabetes  को कम करने में लाभकारी साबित हो सकता है.

Ashwagandha  can help in inflammation

Inflammation एक ऐसी चीज है जो कि कई सारी बीमारियों को पैदा करती है,   हालांकि सभी के शरीर में थोड़ा  सा inflammation  होता है और  इतना inflammation  होना शरीर के लिए बुरी बात नहीं है परंतु,  स्वामी के साथ-साथ जैसे-जैसे एक व्यक्ति की उम्र बढ़ती जाती है उसके शरीर में inflammation  भी बढ़ता जाता है इसीलिए ऐसे समय में inflammation  को कम करना काफी जरूरी हो जाता है.

आपको बता दें कि बुजुर्गों में ज्यादातर बीमारियां inflammation के बढ़ जाने की वजह से ही होती हैं,  इसके ऊपर भी scientests  ने कुछ studies   करी और पाया कि जानवरों में अश्वगंधा inflammation  को कम कर सकता है,  और कुछ ऐसे सबूत भी मिले हैं जिससे कि यह कहा जा सकता है कि इंसानों में भी अश्वगंधा inflammation  को काम कर सकता है.

अश्वगंधा helps improve sleep 

जैसा कि हमने आपको  अश्वगंधा के बारे में बताया कि यह थकावट को दूर करने में और एनर्जी को बढ़ाने में मदद करता है,  साथ ही आपकी नींद को भी अच्छा करता है,  आपको बता दें कि ऐसे कई लोग होते हैं जिन्हें नींद अच्छे से नहीं आती  बहुत सारी studies  मैं यह बताया गया है कि अश्वगंधा के रोज इस्तेमाल करने से लोगों की नींद काफी गहरी और अच्छी हो जाती है जिसकी वजह से उनका जीवन ताजगी से भर जाता है.

और इसके फायदे उन लोगों में ज्यादा देखे गए हैं जिन्हें  नींद की बीमारी insomnia है. 

जैसा कि हम आपको पहले भी बता चुके हैं अश्वगंधा की कितनी खुराक आपके लिए सबसे ज्यादा फायदेमंद है इस सवाल का जवाब अभी तक science  के पास नहीं है हालांकि आगे आने वाली studies  हमें हमें इस सवाल का भी जवाब मिल जाएगा,  इसीलिए मार्केट से अश्वगंधा लेते समय पैकेट पर जरूर देखने की उसकी खुराक कितनी लेनी है यदि आपको पैकेट पर खुराक ना मिले तब आपको बेचने वाले से अश्वगंधा की खुराक पता करनी चाहिए.

 यदि आपका कोई फैमिली डॉक्टर है तो आपको अश्वगंधा की खुराक अपनी फैमिली डॉक्टर से पूछनी चाहिए. 

यह भी पढ़ें

Source of information: wikipedia

Sharing Is Caring:

Leave a Comment

IPL 2022: Updated Points Table, Orange Cap And Purple Cap RCB vs GT Dream11 Prediction, Fantasy Cricket Tips, Dream11 Team Mumbai Indians vs SunRisers Hyderabad Prediction- Who Will Win MI vs SRH Match Prediction- Who Will Win Today’s IPL IPL 2022: Match 65, MI vs SRH Match Prediction – Who will win today IPL 2022: 3 Players to avoid in fantasy teams for PBKS vs DC game IPL 2022: Match 62, CSK vs GT – Full List of Award Winners IPL 2022: Match 63, LSG vs RR Match Prediction-आज का आईपीएल कौन जीतेगा Shoaib Akhtar on Umran Malik: ‘मेरा रिकॉर्ड तोड़ने के… ओवर ईटिंग ki आदत आपको बना सकती है इन 5 बीमारियों का शिकार